श्रमिको की नयी लिस्ट जारी हो गयी है, यहाँ से देखें नाम

Last Updated On January 15, 2022

Labour Job Card List : ग्रामीण विकास मंत्रालय, भारत सरकार इस कार्यक्रम के तहत ज्यादातर ग्रामीण क्षेत्रों में रहने वाले गरीब परिवारों को मनरेगा ( Mahatma Gandhi National Rural Employment Guarantee Act ) जारी करने के लिए जिम्मेदार है। ये नरेगा जॉब कार्ड ( NREGA Job Card ) केंद्र सरकार की मनरेगा योजना के तहत जारी किए जाते हैं। नरेगा जॉब कार्ड लिस्ट 2022 मनरेगा द्वारा जारी की जाती है, जिसे राज्यवार नीचे चेक किया जा सकता है।

UP Labour Card

मनरेगा ( Mahatma Gandhi National Rural Employment Guarantee Act ) योजना शुरू करने के पीछे का मकसद ग्रामीण क्षेत्रों से ताल्लुक रखने वाले लोगों के स्तर का उत्थान करना है और उन्हें 100 दिन के वेतन रोजगार की गारंटी देकर पूरा किया जाएगा। जिन लोगों ने योजना के तहत पंजीकरण कराया है, वे नरेगा जॉब कार्ड ( NREGA Job Card ) सूची में अपना नाम देख सकते हैं। नीचे इस लेख में, आप जानेंगे कि कैसे जांचें और राज्यवार सीधा लिंक कैसे करें।

केंद्रीय बजट के बारे में अपडेट

सरकार ने वित्तीय वर्ष 2021-22 के लिए 73000 करोड़ रुपये का बजट आवंटित किया है। कोरोना काल में कई लोगों की नौकरी चली गई है। रोजगार क्षेत्र को पुनर्जीवित करने के लिए इस मनरेगा ( Mahatma Gandhi National Rural Employment Guarantee Act ) योजना के तहत अधिक जोर दिया गया है। नरेगा जॉब कार्ड ( NREGA Job Card ) के लिए वर्ष 2020-21 के लिए जो राशि आवंटित की गई थी वह 61,500 करोड़ थी।

UP labour Card List

नरेगा जॉब कार्ड सूची

मनरेगा ( Mahatma Gandhi National Rural Employment Guarantee Act ) के तहत राजस्थान की राज्य सरकार ने एक अभियान शुरू किया है जिसकी टैगलाइन है “रा काम, रूपा धिम” जिसका अर्थ है कि यदि कार्यकर्ता ने उन्हें आवंटित समय के रूप में अपना कार्य पूरा किया तो उस स्थिति में उन्हें पूरा भुगतान किया जाएगा। अभी तक दैनिक आधार पर नरेगा जॉब कार्ड ( NREGA Job Card ) श्रमिकों को अधिकतम 220/- रुपये का वेतन मिलता था।

नरेगा COVID-19 हिट श्रमिकों के लिए उद्धारकर्ता बना

जैसा कि हम जानते हैं कि कोरोनावायरस के कारण कई अकुशल श्रमिकों की नौकरी चली गई थी और जरूरत की इस घड़ी में नरेगा देश के कई लोगों के लिए तारणहार बन गया और हम ऐसा इसलिए कह रहे हैं क्योंकि लॉकडाउन के दौरान मनरेगा ( Mahatma Gandhi National Rural Employment Guarantee Act ) पोर्टल में पंजीकृत लोगों की संख्या अचानक बढ़ा दी गई थी और हैदराबाद में खबर के अनुसार तालाबंदी की अवधि के दौरान 5.84 लाख लोगों ने पंजीकरण कराया है। जबकि तेलंगाना में करीब 1.12 करोड़। व्यक्ति ने नरेगा जॉब कार्ड ( NREGA Job Card ) पोर्टल में अपना पंजीकरण कराया है जिसमें से लगभग 59% महिलाएं  !

नरेगा जॉब कार्ड सूची 2021-22 : Labour Job Card List

ऑनलाइन मनरेगा ( Mahatma Gandhi National Rural Employment Guarantee Act ) जॉब कार्ड सूची 2021 डाउनलोड करने का चरण

  1. सबसे पहले नरेगा जॉब कार्ड ( NREGA Job Card ) की अधिकारिक वेबसाइट nic.in पर जाएँ !
  2. होमपेज पर, पारदर्शिता और जवाबदेही अनुभाग में जॉब कार्ड विकल्प पर क्लिक करें
  3. इस पेज में आपको स्क्रीन पर प्रदर्शित सभी राज्यों की सूची दिखाई देगी।
  4. लिस्ट में से अपने राज्य के लिंक पर क्लिक करें.
  5. वित्तीय वर्ष, जिला, ब्लॉक और पंचायत का चयन करें और आगे बढ़ें बटन पर क्लिक करें।
  6. अब आप अपने जिले, क्षेत्र और पंचायत के अनुसार नरेगा जॉब कार्ड लिस्ट देख सकते हैं।
  7. यहां आपको अपना नाम ढूंढना है और अपने जॉब कार्ड नंबर पर क्लिक करना है।
  8. स्क्रीन पर अपने जॉब कार्ड नंबर और अपने जॉब कार्ड की जानकारी शो पर क्लिक करें।

नरेगा जॉब कार्ड को कैसे सत्यापित / अपडेट करें : Labour Job Card List

हर राज्य समयबद्ध अवधि में मनरेगा ( Mahatma Gandhi National Rural Employment Guarantee Act ) जॉब कार्ड को सत्यापित या अद्यतन करने के लिए एक अभियान चलाता है और यह जिला समन्वयक और राज्य सरकार का कर्तव्य है कि वह समय-समय पर ऐसे अभियान चलाए। यदि आपके राज्य/जिले में ऐसा कोई अभियान चलाया गया हो तो उसमें भाग लें जहां कुछ चीजों की जांच की जाएगी जो हमने नीचे दी है:

  • SECC टिन नंबर, बैंक या डाकघर खाता संख्या सत्यापित होनी चाहिए
  • कार्यकर्ता का व्यक्तिगत या पारिवारिक फोटो सक्षम अधिकारी द्वारा विधिवत सत्यापित होना चाहिए।
  • जॉब कार्ड में मांग, किए गए कार्य और आवंटन को अद्यतन किया जाना चाहिए।

मनरेगा योजना का इतिहास

नरेगा जॉब कार्ड ( NREGA Job Card ) योजना अधिनियम 1991 में पी.वी. नरसिम्हा राव के नेतृत्व में सरकार द्वारा प्रस्तुत किया गया था, फिर इसे अंततः दोनों संसदों में स्वीकार किया गया और बाद में भारत के 625 जिलों में लागू किया गया । मनरेगा ( Mahatma Gandhi National Rural Employment Guarantee Act ) योजना को ग्रामीण विकास के लिए उत्कृष्ट माना जाता है !

Labour Card कैसे बनता है

श्रम विभाग द्वारा  मजदूरी करने वाले नागरिकों का Shramik, Majdur & Labour Card  बनाया जाता है। Labour Card का उपयोग करके मजदूर सरकार की तरफ से दी जाने वाली बहुत सारी योजनाओं का लाभ प्राप्त करते हैं।  किसी भी मजदूर का लेबर कार्ड बनते ही उसका दुर्घटना बीमा भी हो जाता है। मजदूरी करने वाले सभी नागरिक अपना लेबर कार्ड बनवा सकते हैं,  और राज्य सरकार तथा केंद्र सरकार की तरफ से  लेबर कार्ड पर मिलने वाली सुविधाओं का लाभ प्राप्त कर सकते हैं।  आइए जानते हैं Labour Card Kaise Banta Hai ।

Labour Card Key

योजना का नाम लेबर कार्ड
किसने शुरू की श्रम विभाग
लाभार्थी श्रमिक नागरिक
आवेदन प्रक्रिया ऑनलाइन
Official Website Click Here

लेबर कार्ड के फायदे क्या है?

एक मजदूर को  Labour Card   बनवाने पर निम्न फायदे मिलते हैं।

  • शिशु हित लाभ योजना
  • दुर्घटना सहायता योजना
  • गंभीर बीमारी सहायता योजना
  • मृत्यु एवं अंत्येष्टि सहायता योजना
  • बालिका आशीर्वाद योजना
  • अक्षमता पेंशन योजना
  • औजार क्रय सहायता योजना
  • राष्ट्रीय स्वास्थ्य बीमा योजना
  • मातृत्व हित लाभ योजना
  • मेधावी छात्र पुरस्कार योजना
  • कौशल विकास तकनीकी प्रमाणन योजना
  • एंबुलेंस सहायता योजना
  • पुत्री विवाह अनुदान योजना
  • सौर ऊर्जा सहायता योजना
  • आवाज सहायता योजना
  • साइकिल वितरण योजना
  • निर्माण कामगार एवं विकलांग सहायता योजना
  • महात्मा गांधी पेंशन योजना
  • संत रविदास शिक्षा सहायता योजना
  • चिकित्सा सुविधा योजना
  • आवास सहायता योजना मरम्मत हेतु
  • शौचालय सहायता योजना
  • मातृत्व एवं बालिका  मदद योजना
  • आपदा राहत योजना
  • आवासीय विद्यालय योजना
  • पंडित दीनदयाल उपाध्याय योजना

लेबर कार्ड के लाभ ( Labour Card Benifits )

  • उत्तर प्रदेश के नागरिकों को सरकार Labour Card , Shramik Card  पर अतिरिक्त निम्न लाभ देती है।
  • मजदूरों के बच्चों को उच्च शिक्षा प्राप्त करने के लिए 60,000 रुपए की सहायता प्रदान की जाती है।
  • गंभीर बीमार मजदूरों की इलाज का खर्च सरकार उठाती है।
  • मजदूरों की बेटियों की शादी के लिए सरकार 55,000  रुपए की सहायता प्रदान कर आती है।
  • मजदूर को “  मातृत्व शिशु एवं बालिका मदद योजना”  के अंतर्गत बेटे के जन्म लेने पर 20,000 रुपए तथा  बेटी के जन्म लेने पर 25,000  की सहायता सरकार द्वारा दी जाती है।
  • इसी के साथ मजदूरों को और भी बहुत सारे लाभ प्रदान किए जाते हैं।
  • नियोजन प्रमाण पत्र/स्वघोषणा पत्र
  • आधार कार्ड की प्रतिलिपि
  • बैंक पासबुक प्रचलित
  • फोटो
  • मोबाइल नंबर

लेबर कार्ड बनवाने में कितने पैसे लगते हैं

सरकार ने वर्तमान समय में आपदा को देखते हुए 31.03.2021 तक पंजीयन शुल्क, नवीनीकरण शुल्क एवं विलम्ब शुल्क को 01 वर्ष की अवधि के लिये शून्य कर दिया गया है। 

लेबर कार्ड आवेदन की पात्रता क्या है?

  • आवेदन करने वाले श्रमिक की उम्र 18- 60  वर्ष के बीच होनी चाहिए।
  • आवेदक द्वारा निर्माण श्रमिक के रूप में वर्ष में कम से कम 90 दिन कार्य पूर्ण किया गया हो।

Labour Card Kaise Banta Hai – Shramik, Majdur Card Online Apply

लेबर, श्रमिक, मजदूर कार्ड Online Registration Process –

  • वेबसाइट के होम पेज पर आपको श्रमिक  का एक विकल्प दिखाई देगा।उस पर क्लिक करें-
  • अब  श्रमिक पंजीयन/ संशोधन पर क्लिक करें।
  • आपके सामने एक फार्म खुल जाएगा जहां पर अपना आधार नंबर, मंडल, जिला, और अपना मोबाइल नंबर डालकर आवेदन/ संशोधन करें के विकल्प पर क्लिक करें।
  • आपके मोबाइल नंबर पर एक OTP  आएगा जिसे Verify  कर लेना है।
  • इसके बाद आपके सामने Labour Registration Form खुल जाएगा जिसमें पूछी गई जान सही-सही भरे। जैसे, अपना नाम, पिता का नाम, पूरा पता, संबंधित आवश्यक दस्तावेज।
  • सभी जानकारी भरने के बाद पंजीकरण करें  के विकल्प पर क्लिक करें।
  • आपके Registered Mobile Number पर आपका Labour Registration Number  आ जाएगा।
  • अब आप को 5-6  दिनों तक इंतजार करना है इसके बाद  अपनी पंजीकरण की स्थिति चेक कर सकते हैं।

लेबर कार्ड आवेदन स्थिति कैसे देखें?

Labour,Majdur Card Registration करने के बाद Application Status  इस प्रकार देखें-

  • सबसे पहले आधिकारिक वेबसाइट पर जाएं।
  • श्रमिक के विकल्प पर क्लिक करें।
  • पंजीयन की स्थिति  के विकल्प पर क्लिक करें।
  • अपना पंजीकरण नंबर और मोबाइल नंबर दर्ज करें।
  • Search विकल्प पर क्लिक करें।
  • आपका Labour Card Registration Status  आ जाएगा।

लेबर कार्ड डाउनलोड कैसे करें?

लेबर कार्ड डाउनलोड करने के 2  तरीके हैं-

Step 1. 

  • सबसे पहले अपने नजदीकी CSC Center  यानी  जन सेवा केंद्र पर जाएं।
  • CSC VLE  को अपना आधार कार्ड और Labour Registration Number  बताएं।
  • इस प्रकार CSC VLE  आपका Labour Card Download  करके  आपको दे देगा।

Step 2. 

  • सबसे पहले इसकी अधिकारी वेबसाइट पर जाएं।
  • श्रमिक के विकल्प पर क्लिक करें।
  • अब श्रमिकों की सूची  जनपद वार/ ब्लॉक वार”  के विकल्प पर क्लिक करें।
  • आपके सामने एक पेज खुल जाएगा जहां पर अपने  जनपद, विकास खंड, कार्य की प्रकृति का चयन करें।
  • “Submit”विकल्प पर क्लिक करें।
  • आपके सामने Labour Card List  खुलकर आ जाएगी, जगह पर आपको अपने आप नाम खोजना होगा।
  • अपने नाम के सामने दिए गए “View” Button  पर क्लिक करें।
  • आपके सामने  आपका लेबर कार्ड  खुल कर  आ जाएगा,  जहां पर आपको “view report”  के  ऊपर क्लिक करके इसे अपनी मोबाइल फोन या कंप्यूटर में सेव कर लो।
  • अब आप  इससे संबंधित योजनाओं में इसका इस्तेमाल कर सकते हैं।

लेबर कार्ड में अपना आधार सत्यापन  कैसे करें?

जैसा की आप लोगों को पता होगा कि सरकार की तरफ से Labour Card  धारकों को कई प्रकार की योजनाओं से लाभान्वित कराया जाता है। लेकिन इन योजनाओं का लाभ लेने के लिए आपके Labour Card  से  आपका Aadhaar Card Link  होना जरूरी है, तभी आप सरकार की तरफ से दी जाने वाली सभी योजनाओं का लाभ प्राप्त कर सकेंगे।  लेबर कार्ड से आधार लिंक करने की प्रक्रिया को लेबर कार्ड में अपना आधार सत्यापन करें कहते हैं।

  • लेबर कार्ड में आधार सत्यापन करने के लिए सबसे पहले इसकी अधिकारी वेबसाइट पर जाना होगा।
  • वेबसाइट पर जाने के लिए यहां क्लिक करें।
  • वेबसाइट के होम पेज पर आपको “ श्रमिक  के विकल्प में सबसे नीचे “ अपना आधार सत्यापन करें” के विकल्प पर क्लिक करना होगा।
  • आपके सामने एक एप्लीकेशन फॉर्म खुल जाएगा जहां पर आपको अपनी कुछ जानकारी देनी होगी।
  • सबसे पहले अपने मंडल का चयन करें, श्रमिक पंजीकरण संख्या भरे,  आधार संख्या डालें,  और अपना नाम, पता, जन्मतिथि आदि की जानकारी सही-सही भरी।
  • अब नीचे दिए गए “ चेक बॉक्स”  पर  टिक  करें  और “आधार सत्यापन” के विकल्प पर क्लिक करें।
  • इस प्रकार  आपकी आधार सत्यापन प्रक्रिया पूरी हो जाएगी।

SSC GD Answer Key देखें आज कितने बजे जारी होगी : जाने कैसे चेक होगी 

SSC GD Answer Key 2021:

SSC GD Answer Key 2021: की आंसर के कल जरी की गयी थी लेकिन किसी कारण से अभी नहीं दिखाई दे रही है, SSC ने यह कहा है आंसर Key आज यानि 25 December को शाम 05 बजे फिर से जरी करेगा आप अपनी आंसर key दी हुई लिंक से चेक कर सकते हो, अगर कोई परेशानी आ रही है तो टेलीग्राम से जुड़कर comment करें , शाम 05 बजे सबकी आंसर key आ जाएगी निचे दिया गया है कैसे आंसर key चेक करें|

SSC GD Constable Answer Key

Download Answer Key (Official Link) : Click Here
Join Telegram Channel : Click Here
Download Answer Key (Direct Link) : Click Here

SSC GD Answer Key 2021: कर्मचारी चयन आयोग, SSC ने अर्धसैनिक बलों में जी डी कांस्टेबल के 25,271 पदों पर भर्ती के लिए आयोजित परीक्षा की टेंटेटिव आंसर की (SSC GD Constable Answer Key 2021) जारी कर दी है. परीक्षा में शामिल होने वाले उम्मीदवार कर्मचारी चयन आयोग की आधिकारिक वेबसाइट ssc.nic.in पर जाकर आंसर की (SSC GD Constable Answer Key 2021) चेक कर सकते हैं एवं डाउनलोड कर सकते हैं.

SSC GD Answer Key

इसके अलावा उम्मीदवार वैकल्पिक रूप से नीचे दे जा रही डायरेक्ट लिंक पर क्लिक करके भी एसएससी जीडी कांस्टेबल की आंसर की (SSC GD Answer Key 2021) डाउनलोड कर सकते हैं. दी गई लिंक पर क्लिक कर उम्मीदवारों को अपने रोल नंबर और पासवर्ड के जरिए लॉगइन कर आंसर की डाउनलोड करना होगा.

SSC GD Constable Answer Key 2021 Download Link

आंसर की जारी करने के साथ ही एसएससी ने उम्मीदवारों को सूचित किया है कि उम्मीदवार किसी भी प्रश्न का उत्तर के खिलाफ 24 दिसंबर 2021 से 31 दिसंबर 2021 तक आपत्ति दर्ज करा सकते हैं. गौरतलब है कि भर्ती परीक्षा के माध्यम से बीएसएफ, सीआईएसएफ, आईटीबीपी, एसएसबी और एसएसएफ में कॉन्स्टेबल पदों पर भर्तियां की जाएंगी.

एसएससी जीडी कांस्टेबल आंसर की 2021 कैसे डाउनलोड करें?

  • 1. एसएससी की आधिकारिक वेबसाइट ssc.nic.in पर जाएं।
  • 2. होमपेज पर एसएससी जीडी कांस्टेबल आंसर की 2021 डाउनलोड लिंक पर क्लिक करें।
  • 3. एसएससी जीडी कांस्टेबल आंसर की 2021 डाउनलोड करने के लिए आईडी पासवर्ड दर्ज करें।
  • 4. एसएससी जीडी कांस्टेबल आंसर की 2021 पीडीएफ डाउनलोड करें और उत्तरों का मिलान करें।
  • 5. भविष्य के सन्दर्भ के लिए एसएससी जीडी कांस्टेबल आंसर की 2021 का प्रिंट आउट ले लें।एसएससी की ओर से आज जारी नोटिस के अनुसार, इस अनंतिम आंसर की के आधार पर यदि किसी अभ्यर्थी को परीक्षा में पूछे गए प्रश्न या उत्तर पर आपत्ति हो तो वह 24-12-2021 (06:00PM) से 31-12-2021 (06:00PM)  तक आपत्ति दर्ज करा सकता है। अभ्यर्थी 100 रुपए को प्रतिप्रश्न या प्रतिउत्तर के हिसाब से शुल्क जमा कराना होगा। अभ्यर्थी अपने आंसर की डाउनलोड करके प्रिंटआउट भी कर सकते हैं क्योंकि वेबसाइट पर एक समय-सीमा तक की आंसर की उपलब्ध रहेगी।
    एसएससी जीडी कांस्टेबल भर्ती परीक्षा 2021 का आयोजन 16 नवंबर 2021 से 15 दिसंबर 2021 तक किया गया था। एसएससी की इस भर्ती परीक्षा के जरिए इस बार कांस्टेबल के कुल 25271 पदों के लिए योग्य अभ्यर्थियों का चयन किया जाना है। सएससी की इस भर्ती से सीमा सुरक्षा बल (बीएसएफ), केंद्रीय औद्योगिक सुरक्षा बल (सीआईएसएफ), भारत तिब्बत सीमा पुलिस (आईटीबीपी), सशस्त्र सीमा बल (एसएसबी) और सचिवालय सुरक्षा बल (एसएसएफ) और राइफलमैन (सामान्य ड्यूटी) में कांस्टेबल पदों के लिए चयन किया जाएगा।

UP Lekhpal Syllabus 2021

UP Lekhpal Syllabus 2021

UP Lekhpal Bharti 2021 Syllabus : आयोग द्वारा Syllabus जारी कर  दिया है अभी देखें 

उत्तर प्रदेश सरकार नें राजस्व और चकबंदी लेखपाल पद के लिए भर्ती करने की घोषणा की है, इसकी भर्ती केवल लिखित परीक्षा के आधार पर किया जायेगा,राज्य सरकार ने इस परीक्षा में Interview को समाप्त कर दिया है, लिखित परीक्षा के परिणाम पर आधारित मेरिट लिस्ट तैयार की जाएगी, जिसके उपरांत सफल अभ्यर्थियों को नियुक्ति पत्र प्रदान किया जायेगा, इस परीक्षा का पाठ्यक्रम और पैटर्न के बारें में आपको इस पेज पर विस्तार से बता रहें है | UP Lekhpal Syllabus 2021

Download Syllabus Pdf (Format) : Click Here

Join Telegram Channel : Click Here

UP Lekhpal Syllabus 2021

सामान्य हिंदी (25 प्रश्न)

  • शब्द अर्थ
  • शब्दों का प्रयोग
  • रस
  • अलंकार
  • समास
  • पर्यायवाची
  • विलोम
  • तत्सम एवं तदभव
  • वाक्यांशों के लिए शब्द निर्माण
  • लोकोक्तियाँ एवं मुहावरे
  • वर्तनी
  • वाक्य संशोधन
  • सन्धियां, लिंग, वचन, कारक ,त्रुटि से सम्बंधित अनेकार्थी शब्द

सामान्य ज्ञान (25 प्रश्न)

  • राष्ट्रीय और अंतर्राष्ट्रीय महत्व के वर्तमान मामले, भारतीय इतिहास,स्वतंत्रता आंदोलन,
  • भारतीय राजनीति और अर्थशास्त्र,
  • विश्व भूगोल और जनसंख्या,
  • सामान्य जीवन के परिप्रेक्ष्य से विशेष रूप से दैनिक जीवन में होने वाली घटनाओं के प्रश्न।
  • भारतीय इतिहास: फोकस वित्तीय, सामाजिक, धार्मिक और राजनीतिक दलों के ज्ञान पर होगा। भारतीय स्वतंत्रता आंदोलन के तहत भारतीय स्वतंत्रता आंदोलन की प्रकृति और विशेषता के बारे में ज्ञान, राष्ट्रवाद का उदय और स्वतंत्रता प्राप्त करने की अपेक्षा की जाती है।
  • विश्व भूगोल: भारत, आर्थिक, सामाजिक, जनसांख्यिकीय मुद्दों के शारीरिक / पारिस्थितिकी के बारे में केवल सामान्य ज्ञान का परीक्षण किया जाएगा।

गणित (25 प्रश्न)

  • संख्या प्रणाली, प्रतिशत, लाभ हानि, सांख्यिकी, तथ्यों का वर्गीकरण, आवृत्ति, आवृत्ति वितरण, सारणीकरण, संचयी आवृत्ति
  • तथ्यों का निर्माण, बार चार्ट, पाई चार्ट, हिस्टोग्राम, फ्रीक्वेंसी पॉलीगॉन, केंद्रीय माप: समांतर माध्य, माध्य और मोड ।
  • ज्यामिति:-
  • त्रिभुज और पायथागोरस प्रमेय, आयताकार, स्क्वायर, ट्रैपेज़ियम, समांतरोग्राम का परिधि और क्षेत्र, परिधि का परिधि और क्षेत्र।
  • बीजगणित
  • एलसीएम और एचसीएफ, एलसीएम और एचसीएफ, समसामयिक समीकरण, क्वाड्रैटिक समीकरण, कारक, क्षेत्र प्रमेय के बीच संबंध।

ग्राम समाज और विकास (25 प्रश्न)

  • ग्रामीण प्रशासन- राजस्व प्रशासन के घटक और कार्य,
  • राजस्व प्रशासन – घटक और समारोह
  • ग्रामीण विकास के लिए योजना -जिला नियोजन मशीनरी, पोस्ट 1992 जिला योजना मशीनरी, पीपुल्स भागीदारी और एनजीओ की भूमिका में सुधार |
  • भारतीय ग्रामीण समाज- प्रकृति और लक्षण, भारतीय समाज के कारक, जनजातीय- ग्रामीण-शहरी-ग्रामीण-शहरी निरंतर, कमजोर वर्गों की समस्याएं- अनुसूची का आयोजन, अनुसूची जनजाति
  • ग्रामीण संस्थागत प्रणाली- धार्मिक और सहयोग
  • ग्रामीण सामाजिक परिवर्तन- ए। संस्कृतकरण बी। पश्चिमीकरण सी। आधुनिकीकरण
  • रोजगार के स्रोत- स्व सहायता समूह, स्वर्णजयंती ग्राम स्वरोजगार योजना ।

PM Kisan Beneficiary Status | PM Kisan Status : देखें अपना स्टेटस अभी

PM Kisan Beneficiary Status, PM Kisan Status

पीएम किसान सम्मान निधि योजना का PM Kisan Beneficiary Status आप बहुत ही आसानी से देखे सकते है, आपको निचे status लिंक पे क्लिक करना है, उसके बाद आप अपना Status देख सकते है, PM Kisan Status

Check PM Kisan Status : Click Here

PM Kisan Beneficiary Status

आप अपना Status तिन तरीको से देख सकते है 

  • आधार नंबर से
  • Account नंबर से
  • Mobile नंबर से

What is PM Kisan Yojana

पीएम किसान सम्मान निधि योजना (PM Kisan Samman Nidhi yojana) का फायदा 2 हेक्टयर या उससे कम जमीन वाले किसान उठा सकते हैं. इस योजना के तहत चुने जाने वाले किसानों को 5 वर्षों तक सालाना 6000 रुपये (2000-2000 की तीन किस्तों में) दिए जाने का प्रावधान है. इसके तहत पैसा सीधे लाभार्थी के बैंक खाते में ट्रांसफर किया जाता है

योजना की शुरुआत वर्ष 2018 के रबी सीजन में की गई थी। उस समय सरकार
ने इसके लिए 20 हजार करोड़ रुपये का अग्रिम बजटीय प्रावधान करा लिया था, जबकि योजना
पर सालाना खर्च 75 हजार करोड़ रुपये आने का अनुमान था। लेकिन देश में किसानों की संख्या
अधिक होने के कारण एवं इस योजना में किसानो की दिलचस्पी होने के कारण सालाना खर्च में बढ़ोतरी हुई है।

छोटे किसानों के लिए यह योजना अत्यन्त उपयोगी सिद्ध हुई है। बुवाई से ठीक पहले नगदी संकट से जूझने वाले किसानों को इस नगदी से बीज, खाद और अन्य इनपुट की उपलब्धता में सुविधा हो रही है।

इन छोटे किसानों में ज्यादातर सीमान्त हैं, जिनका खेती से पेट भरना मुश्किल है। लेकिन इस योजना के आने के बाद किसान इसका लाभ ले कर काफी खुश हैं।

इस योजना का लाभ दो हेक्टेयर खेती वाली जमीन से कम रकबा वाले किसानों
को दिए जाने का प्रावधान है। राज्य सरकारें ऐसे किसानों की जोत के साथ उनके बैंक खाते और अन्य ब्यौरा केंद्र सरकार
को मुहैया कराती है। उसकी पुष्टि के बाद केन्द्र सरकार ऐसे किसानों के बैंक खातों में सीधे धन जमा करती है। योजना की
सफलता में डिजिटल प्रणाली की भूमिका अहम साबित हो रही है।

कॉमन सर्विस सेंटर (CSC) से पीएम किसान योजना के लिए कैसे आवेदन करें

  • किसान योजना में आवेदन करने के लिए आपको अपने नजदीकी CSC सेंटर पर जाना होगा।
  • वहाँ पर आपको अपना आधार कार्ड, बैंक पासबुक और जमीन के दस्तावेज ले कर जाना होगा।
  • CSC संचालक को सभी डॉक्यूमेंट दें और किसान योजना में आवेदन करने को कहें।
  • आवेदन शुल्क देने के बाद आपका रजिस्ट्रेशन और आवेदन हो जायेगा
  • आवेदन की प्रक्रिया ऑनलाइन है इसलिए इसमें ज्यादा समय नहीं लगता है.
    मात्र 5 से 10 मिनट में आपकी आवेदन प्रक्रिया पूरी हो जाएगी।

ऑनलाइन खुद कैसे आवेदन करें

  • सबसे पहले पीएम किसान योजना के लिए नया आवेदन करने के लिए pmkisan.gov.in पर जाएँ, यह पीएम किसान योजना की आधिकारिक वेबसाइट है।
  • अब यहां New Farmer Registration के विकल्प पर क्लिक करें।
  • इसके बाद आपको अपना आधार नंबर सब्मिट करना है।
  • आधार नंबर सब्मिट करने के बाद किसान योजना आवेदन फॉर्म खुल जायेगा।
  • आवेदन फॉर्म में मांगी गयी सभी जानकारी सावधानीपूर्वक भरें और फॉर्म को सब्मिट कर दें
  • इस प्रकार आपका आवेदन पूरा हो जायेगा

आवेदन के पश्चात् आपका आवेदन सत्यापन के लिए आपके ब्लॉक में भेज दिया जाएगा.
ब्लॉक में वेरीफाई होने के बाद आपका आवेदन जिला कल्याण विभाग को भेज दिया जाएगा.
उसके बाद राज्य सरकार इसको सत्यापित करेगी और अंत में केंद्र सरकार के पास आपका आवेदन ऑनलाइन ही सत्यापन के लिए पहुच जायेगा
केंद्र सरकार से मंजूरी मिलने के बाद सहायता राशि आपके खाते में आनी शुरू हो जायेगी।

Join Telegram Channel : Click Here