श्रमिको की नयी लिस्ट जारी हो गयी है, यहाँ से देखें नाम

Last Updated On January 15, 2022

Labour Job Card List : ग्रामीण विकास मंत्रालय, भारत सरकार इस कार्यक्रम के तहत ज्यादातर ग्रामीण क्षेत्रों में रहने वाले गरीब परिवारों को मनरेगा ( Mahatma Gandhi National Rural Employment Guarantee Act ) जारी करने के लिए जिम्मेदार है। ये नरेगा जॉब कार्ड ( NREGA Job Card ) केंद्र सरकार की मनरेगा योजना के तहत जारी किए जाते हैं। नरेगा जॉब कार्ड लिस्ट 2022 मनरेगा द्वारा जारी की जाती है, जिसे राज्यवार नीचे चेक किया जा सकता है।

UP Labour Card

मनरेगा ( Mahatma Gandhi National Rural Employment Guarantee Act ) योजना शुरू करने के पीछे का मकसद ग्रामीण क्षेत्रों से ताल्लुक रखने वाले लोगों के स्तर का उत्थान करना है और उन्हें 100 दिन के वेतन रोजगार की गारंटी देकर पूरा किया जाएगा। जिन लोगों ने योजना के तहत पंजीकरण कराया है, वे नरेगा जॉब कार्ड ( NREGA Job Card ) सूची में अपना नाम देख सकते हैं। नीचे इस लेख में, आप जानेंगे कि कैसे जांचें और राज्यवार सीधा लिंक कैसे करें।

केंद्रीय बजट के बारे में अपडेट

सरकार ने वित्तीय वर्ष 2021-22 के लिए 73000 करोड़ रुपये का बजट आवंटित किया है। कोरोना काल में कई लोगों की नौकरी चली गई है। रोजगार क्षेत्र को पुनर्जीवित करने के लिए इस मनरेगा ( Mahatma Gandhi National Rural Employment Guarantee Act ) योजना के तहत अधिक जोर दिया गया है। नरेगा जॉब कार्ड ( NREGA Job Card ) के लिए वर्ष 2020-21 के लिए जो राशि आवंटित की गई थी वह 61,500 करोड़ थी।

UP labour Card List

नरेगा जॉब कार्ड सूची

मनरेगा ( Mahatma Gandhi National Rural Employment Guarantee Act ) के तहत राजस्थान की राज्य सरकार ने एक अभियान शुरू किया है जिसकी टैगलाइन है “रा काम, रूपा धिम” जिसका अर्थ है कि यदि कार्यकर्ता ने उन्हें आवंटित समय के रूप में अपना कार्य पूरा किया तो उस स्थिति में उन्हें पूरा भुगतान किया जाएगा। अभी तक दैनिक आधार पर नरेगा जॉब कार्ड ( NREGA Job Card ) श्रमिकों को अधिकतम 220/- रुपये का वेतन मिलता था।

नरेगा COVID-19 हिट श्रमिकों के लिए उद्धारकर्ता बना

जैसा कि हम जानते हैं कि कोरोनावायरस के कारण कई अकुशल श्रमिकों की नौकरी चली गई थी और जरूरत की इस घड़ी में नरेगा देश के कई लोगों के लिए तारणहार बन गया और हम ऐसा इसलिए कह रहे हैं क्योंकि लॉकडाउन के दौरान मनरेगा ( Mahatma Gandhi National Rural Employment Guarantee Act ) पोर्टल में पंजीकृत लोगों की संख्या अचानक बढ़ा दी गई थी और हैदराबाद में खबर के अनुसार तालाबंदी की अवधि के दौरान 5.84 लाख लोगों ने पंजीकरण कराया है। जबकि तेलंगाना में करीब 1.12 करोड़। व्यक्ति ने नरेगा जॉब कार्ड ( NREGA Job Card ) पोर्टल में अपना पंजीकरण कराया है जिसमें से लगभग 59% महिलाएं  !

नरेगा जॉब कार्ड सूची 2021-22 : Labour Job Card List

ऑनलाइन मनरेगा ( Mahatma Gandhi National Rural Employment Guarantee Act ) जॉब कार्ड सूची 2021 डाउनलोड करने का चरण

  1. सबसे पहले नरेगा जॉब कार्ड ( NREGA Job Card ) की अधिकारिक वेबसाइट nic.in पर जाएँ !
  2. होमपेज पर, पारदर्शिता और जवाबदेही अनुभाग में जॉब कार्ड विकल्प पर क्लिक करें
  3. इस पेज में आपको स्क्रीन पर प्रदर्शित सभी राज्यों की सूची दिखाई देगी।
  4. लिस्ट में से अपने राज्य के लिंक पर क्लिक करें.
  5. वित्तीय वर्ष, जिला, ब्लॉक और पंचायत का चयन करें और आगे बढ़ें बटन पर क्लिक करें।
  6. अब आप अपने जिले, क्षेत्र और पंचायत के अनुसार नरेगा जॉब कार्ड लिस्ट देख सकते हैं।
  7. यहां आपको अपना नाम ढूंढना है और अपने जॉब कार्ड नंबर पर क्लिक करना है।
  8. स्क्रीन पर अपने जॉब कार्ड नंबर और अपने जॉब कार्ड की जानकारी शो पर क्लिक करें।

नरेगा जॉब कार्ड को कैसे सत्यापित / अपडेट करें : Labour Job Card List

हर राज्य समयबद्ध अवधि में मनरेगा ( Mahatma Gandhi National Rural Employment Guarantee Act ) जॉब कार्ड को सत्यापित या अद्यतन करने के लिए एक अभियान चलाता है और यह जिला समन्वयक और राज्य सरकार का कर्तव्य है कि वह समय-समय पर ऐसे अभियान चलाए। यदि आपके राज्य/जिले में ऐसा कोई अभियान चलाया गया हो तो उसमें भाग लें जहां कुछ चीजों की जांच की जाएगी जो हमने नीचे दी है:

  • SECC टिन नंबर, बैंक या डाकघर खाता संख्या सत्यापित होनी चाहिए
  • कार्यकर्ता का व्यक्तिगत या पारिवारिक फोटो सक्षम अधिकारी द्वारा विधिवत सत्यापित होना चाहिए।
  • जॉब कार्ड में मांग, किए गए कार्य और आवंटन को अद्यतन किया जाना चाहिए।

मनरेगा योजना का इतिहास

नरेगा जॉब कार्ड ( NREGA Job Card ) योजना अधिनियम 1991 में पी.वी. नरसिम्हा राव के नेतृत्व में सरकार द्वारा प्रस्तुत किया गया था, फिर इसे अंततः दोनों संसदों में स्वीकार किया गया और बाद में भारत के 625 जिलों में लागू किया गया । मनरेगा ( Mahatma Gandhi National Rural Employment Guarantee Act ) योजना को ग्रामीण विकास के लिए उत्कृष्ट माना जाता है !

Labour Card कैसे बनता है

श्रम विभाग द्वारा  मजदूरी करने वाले नागरिकों का Shramik, Majdur & Labour Card  बनाया जाता है। Labour Card का उपयोग करके मजदूर सरकार की तरफ से दी जाने वाली बहुत सारी योजनाओं का लाभ प्राप्त करते हैं।  किसी भी मजदूर का लेबर कार्ड बनते ही उसका दुर्घटना बीमा भी हो जाता है। मजदूरी करने वाले सभी नागरिक अपना लेबर कार्ड बनवा सकते हैं,  और राज्य सरकार तथा केंद्र सरकार की तरफ से  लेबर कार्ड पर मिलने वाली सुविधाओं का लाभ प्राप्त कर सकते हैं।  आइए जानते हैं Labour Card Kaise Banta Hai ।

Labour Card Key

योजना का नाम लेबर कार्ड
किसने शुरू की श्रम विभाग
लाभार्थी श्रमिक नागरिक
आवेदन प्रक्रिया ऑनलाइन
Official Website Click Here

लेबर कार्ड के फायदे क्या है?

एक मजदूर को  Labour Card   बनवाने पर निम्न फायदे मिलते हैं।

  • शिशु हित लाभ योजना
  • दुर्घटना सहायता योजना
  • गंभीर बीमारी सहायता योजना
  • मृत्यु एवं अंत्येष्टि सहायता योजना
  • बालिका आशीर्वाद योजना
  • अक्षमता पेंशन योजना
  • औजार क्रय सहायता योजना
  • राष्ट्रीय स्वास्थ्य बीमा योजना
  • मातृत्व हित लाभ योजना
  • मेधावी छात्र पुरस्कार योजना
  • कौशल विकास तकनीकी प्रमाणन योजना
  • एंबुलेंस सहायता योजना
  • पुत्री विवाह अनुदान योजना
  • सौर ऊर्जा सहायता योजना
  • आवाज सहायता योजना
  • साइकिल वितरण योजना
  • निर्माण कामगार एवं विकलांग सहायता योजना
  • महात्मा गांधी पेंशन योजना
  • संत रविदास शिक्षा सहायता योजना
  • चिकित्सा सुविधा योजना
  • आवास सहायता योजना मरम्मत हेतु
  • शौचालय सहायता योजना
  • मातृत्व एवं बालिका  मदद योजना
  • आपदा राहत योजना
  • आवासीय विद्यालय योजना
  • पंडित दीनदयाल उपाध्याय योजना

लेबर कार्ड के लाभ ( Labour Card Benifits )

  • उत्तर प्रदेश के नागरिकों को सरकार Labour Card , Shramik Card  पर अतिरिक्त निम्न लाभ देती है।
  • मजदूरों के बच्चों को उच्च शिक्षा प्राप्त करने के लिए 60,000 रुपए की सहायता प्रदान की जाती है।
  • गंभीर बीमार मजदूरों की इलाज का खर्च सरकार उठाती है।
  • मजदूरों की बेटियों की शादी के लिए सरकार 55,000  रुपए की सहायता प्रदान कर आती है।
  • मजदूर को “  मातृत्व शिशु एवं बालिका मदद योजना”  के अंतर्गत बेटे के जन्म लेने पर 20,000 रुपए तथा  बेटी के जन्म लेने पर 25,000  की सहायता सरकार द्वारा दी जाती है।
  • इसी के साथ मजदूरों को और भी बहुत सारे लाभ प्रदान किए जाते हैं।
  • नियोजन प्रमाण पत्र/स्वघोषणा पत्र
  • आधार कार्ड की प्रतिलिपि
  • बैंक पासबुक प्रचलित
  • फोटो
  • मोबाइल नंबर

लेबर कार्ड बनवाने में कितने पैसे लगते हैं

सरकार ने वर्तमान समय में आपदा को देखते हुए 31.03.2021 तक पंजीयन शुल्क, नवीनीकरण शुल्क एवं विलम्ब शुल्क को 01 वर्ष की अवधि के लिये शून्य कर दिया गया है। 

लेबर कार्ड आवेदन की पात्रता क्या है?

  • आवेदन करने वाले श्रमिक की उम्र 18- 60  वर्ष के बीच होनी चाहिए।
  • आवेदक द्वारा निर्माण श्रमिक के रूप में वर्ष में कम से कम 90 दिन कार्य पूर्ण किया गया हो।

Labour Card Kaise Banta Hai – Shramik, Majdur Card Online Apply

लेबर, श्रमिक, मजदूर कार्ड Online Registration Process –

  • वेबसाइट के होम पेज पर आपको श्रमिक  का एक विकल्प दिखाई देगा।उस पर क्लिक करें-
  • अब  श्रमिक पंजीयन/ संशोधन पर क्लिक करें।
  • आपके सामने एक फार्म खुल जाएगा जहां पर अपना आधार नंबर, मंडल, जिला, और अपना मोबाइल नंबर डालकर आवेदन/ संशोधन करें के विकल्प पर क्लिक करें।
  • आपके मोबाइल नंबर पर एक OTP  आएगा जिसे Verify  कर लेना है।
  • इसके बाद आपके सामने Labour Registration Form खुल जाएगा जिसमें पूछी गई जान सही-सही भरे। जैसे, अपना नाम, पिता का नाम, पूरा पता, संबंधित आवश्यक दस्तावेज।
  • सभी जानकारी भरने के बाद पंजीकरण करें  के विकल्प पर क्लिक करें।
  • आपके Registered Mobile Number पर आपका Labour Registration Number  आ जाएगा।
  • अब आप को 5-6  दिनों तक इंतजार करना है इसके बाद  अपनी पंजीकरण की स्थिति चेक कर सकते हैं।

लेबर कार्ड आवेदन स्थिति कैसे देखें?

Labour,Majdur Card Registration करने के बाद Application Status  इस प्रकार देखें-

  • सबसे पहले आधिकारिक वेबसाइट पर जाएं।
  • श्रमिक के विकल्प पर क्लिक करें।
  • पंजीयन की स्थिति  के विकल्प पर क्लिक करें।
  • अपना पंजीकरण नंबर और मोबाइल नंबर दर्ज करें।
  • Search विकल्प पर क्लिक करें।
  • आपका Labour Card Registration Status  आ जाएगा।

लेबर कार्ड डाउनलोड कैसे करें?

लेबर कार्ड डाउनलोड करने के 2  तरीके हैं-

Step 1. 

  • सबसे पहले अपने नजदीकी CSC Center  यानी  जन सेवा केंद्र पर जाएं।
  • CSC VLE  को अपना आधार कार्ड और Labour Registration Number  बताएं।
  • इस प्रकार CSC VLE  आपका Labour Card Download  करके  आपको दे देगा।

Step 2. 

  • सबसे पहले इसकी अधिकारी वेबसाइट पर जाएं।
  • श्रमिक के विकल्प पर क्लिक करें।
  • अब श्रमिकों की सूची  जनपद वार/ ब्लॉक वार”  के विकल्प पर क्लिक करें।
  • आपके सामने एक पेज खुल जाएगा जहां पर अपने  जनपद, विकास खंड, कार्य की प्रकृति का चयन करें।
  • “Submit”विकल्प पर क्लिक करें।
  • आपके सामने Labour Card List  खुलकर आ जाएगी, जगह पर आपको अपने आप नाम खोजना होगा।
  • अपने नाम के सामने दिए गए “View” Button  पर क्लिक करें।
  • आपके सामने  आपका लेबर कार्ड  खुल कर  आ जाएगा,  जहां पर आपको “view report”  के  ऊपर क्लिक करके इसे अपनी मोबाइल फोन या कंप्यूटर में सेव कर लो।
  • अब आप  इससे संबंधित योजनाओं में इसका इस्तेमाल कर सकते हैं।

लेबर कार्ड में अपना आधार सत्यापन  कैसे करें?

जैसा की आप लोगों को पता होगा कि सरकार की तरफ से Labour Card  धारकों को कई प्रकार की योजनाओं से लाभान्वित कराया जाता है। लेकिन इन योजनाओं का लाभ लेने के लिए आपके Labour Card  से  आपका Aadhaar Card Link  होना जरूरी है, तभी आप सरकार की तरफ से दी जाने वाली सभी योजनाओं का लाभ प्राप्त कर सकेंगे।  लेबर कार्ड से आधार लिंक करने की प्रक्रिया को लेबर कार्ड में अपना आधार सत्यापन करें कहते हैं।

  • लेबर कार्ड में आधार सत्यापन करने के लिए सबसे पहले इसकी अधिकारी वेबसाइट पर जाना होगा।
  • वेबसाइट पर जाने के लिए यहां क्लिक करें।
  • वेबसाइट के होम पेज पर आपको “ श्रमिक  के विकल्प में सबसे नीचे “ अपना आधार सत्यापन करें” के विकल्प पर क्लिक करना होगा।
  • आपके सामने एक एप्लीकेशन फॉर्म खुल जाएगा जहां पर आपको अपनी कुछ जानकारी देनी होगी।
  • सबसे पहले अपने मंडल का चयन करें, श्रमिक पंजीकरण संख्या भरे,  आधार संख्या डालें,  और अपना नाम, पता, जन्मतिथि आदि की जानकारी सही-सही भरी।
  • अब नीचे दिए गए “ चेक बॉक्स”  पर  टिक  करें  और “आधार सत्यापन” के विकल्प पर क्लिक करें।
  • इस प्रकार  आपकी आधार सत्यापन प्रक्रिया पूरी हो जाएगी।

राशन कार्ड नयी लिस्ट में अपना नाम जोड़े, राशन कार्ड कैसे बनवाएं

Last Updated On January 11, 2022

MY Ration Card : राशन कार्ड लिस्ट में अपना नाम कैसे जोड़े, घर बैठे बहुत ही आसानी से जोड़ सकते है

राशन कार्ड लिस्ट में अपना नाम कैसे जोड़े  : जिनका नाम राशन कार्ड नई लिस्ट में जुड़ा होता है सिर्फ उन्हें ही राशन दुकान से राशन मिलता है। आज भी कई लोग है, जो राशन कार्ड के पात्र है लेकिन उनका नाम लिस्ट में नहीं है। इसका मुख्य कारण ये भी है कि अधिकांश लोगों को नहीं पता कि राशन कार्ड लिस्ट में अपना नाम कैसे जोड़े ?

My Ration Card

कार्ड लिस्ट में अपना नाम जोड़ने के लिए खाद्य विभाग द्वारा निर्धारित प्रक्रिया को अपनाना होता है। कई लोग आधे अधूरे आवेदन जमा कर देते है जिससे उनका नाम लिस्ट में जुड़ नहीं पाता। इसलिए यहाँ हमने राशन कार्ड लिस्ट में अपना नाम कैसे जोड़े इसकी पूरी जानकारी स्टेप by स्टेप बता रहे है। आप यहाँ बताये गए जानकारी को ध्यान से पढ़ें और जरुरी सभी दस्तावेज की लिस्ट भी देखें। तो चलिए शुरू करते है।

राशन कार्ड लिस्ट में अपना नाम कैसे जोड़े ?

राशन कार्ड लिस्ट में अपना नाम जोड़ने के लिए नजदीकी राशन दुकान या खाद्य विभाग के कार्यालय या ग्राहक सेवा केंद्र से आवेदन फॉर्म प्राप्त करें।

  • आवेदन फॉर्म आप ऑनलाइन भी डाउनलोड कर सकते है। राशन कार्ड लिस्ट में नाम जोड़ने का आवेदन नमूना यहाँ दिए गए लिंक से प्राप्त करें – राशन कार्ड फॉर्म
  • राशन कार्ड लिस्ट में नाम जोड़ने का फॉर्म प्राप्त करने के बाद इसे ध्यान से भरें। जैसे – आवेदक का नाम, पिता/पति का नाम, पूरा पता आदि।
  • आवेदन फॉर्म में सभी सदस्यों का नाम एवं आधार नंबर जरूर भरें। ये बहुत महत्वपूर्ण है।
  • फॉर्म में आवेदक यानि मुखिया का पासपोर्ट साइज फोटो भी जरूर लगाएं।
  • आवेदन फॉर्म में मांगे गए सभी जानकारी को ध्यान से भरने के बाद सबसे नीचे आवेदक का हस्ताक्षर या अंगूठे का निशान जरूर लगाएं।
  • फॉर्म को भरने के बाद उसके साथ निर्धारित सभी दस्तावेज भी लगाना है। आवश्यक सभी दस्तावेज की लिस्ट हमने नीचे दे दिया है।
  • आवेदन फॉर्म तैयार होने के बाद इसे सम्बंधित खाद्य विभाग में जमा कर दें। आवेदन जमा करने के उपरांत आवेदन की पावती लेना ना भूलें।
  • अगर आप राशन कार्ड लिस्ट में अपना नाम जुड़वाने के लिए ऑनलाइन आवेदन करना चाहते है, तो नजदीकी ग्राहक सेवा केंद्र में संपर्क करें।
  • आपका आवेदन जमा होने के बाद छानबीन समिति द्वारा आपके आवेदन की जाँच किया जायेगा। आवेदन सही पाए जाने पर राशन कार्ड लिस्ट में आपका नाम जुड़ जायेगा।
  • किसी भी समस्या के लिए हमारे टेलीग्राम से जुड़े

राशन कार्ड लिस्ट में नाम जोड़ने के लिए क्या क्या दस्तावेज चाहिए ?

  • मुखिया का पासपोर्ट साइज़ की 3 फोटोग्राफ।
  • आय प्रमाण पत्र।
  • सभी सदस्यों की आधार कार्ड की फोटोकॉपी।
  • पैन कार्ड की फोटोकॉपी।
  • ड्राइविंग लाइसेंस।
  • मतदाता पहचान पत्र।
  • वर्तमान की टेलीफ़ोन बिल जो आवेदक के नाम पर हो।
  • एलपीजी कार्ड जो आवेदक के नाम पर हो।
  • मनरेगा जॉब कार्ड की फोटोकॉपी।
  • सरकार या सार्वजनिक क्षेत्र के उपक्रमों द्वारा जारी पहचान पत्र।

राशन कार्ड लिस्ट में अपना नाम जोड़ने के लिए आवेदन जमा करने के बाद आपको निर्धारित समय तक इंतजार करना होगा। क्योंकि छानबीन समिति आपके आवेदन और दस्तावेज की जाँच करेगा। अगर आप राशन कार्ड के लिए पात्र पाए जाते है, तब आपका नाम राशन कार्ड लिस्ट में जुड़ जायेगा।

कार्ड लिस्ट में अपना नाम कैसे जोड़े, इसकी पूरी जानकारी स्टेप by स्टेप आसान तरीके से यहाँ बताया है। अब राशन कार्ड के लिए कोई भी पात्र व्यक्ति बिना किसी परेशानी के राशन कार्ड लिस्ट में अपना नाम जोड़ पायेगा। अगर इसमें आपको कोई परेशानी आये या राशन कार्ड से सम्बंधित आपके मन में कोई सवाल हो तो नीचे कमेंट बॉक्स में पूछ सकते है। हम बहुत जल्दी आपको रिप्लाई करेंगे।

राशन कार्ड के फायदे

क्या आप जानते हैं की ये Ration Card क्या है? क्यूँ Ration Card को एक valid id proof के हिसाब से इस्तमाल किया जाता है? इस छोटे से कागज के टुकड़े की क्या विसेश्ताएं हैं ? यदि इन सभी सवालों के उत्तर आपके पास नहीं हैं और आप इसके विषय में जानना चाहते हैं तो आज की ये Post Ration Card क्या है आपको आगे जरुर पड़ना चाहिए. यहाँ इस Post के माध्यम से आज में आपको राशन कार्ड से सम्बंधित सभी जानकारी प्रदान करने वाला हूँ जिससे आपके मन में इस card को लेकर कुछ भी संकाएँ और नहीं रहेंगी.

जैसे की आपने पहले भी बहुत बार Ration Card (राशन कार्ड) के सम्बन्ध में सुना होगा की आखिर क्या होता है और इसे किस काम के लिए इस्तमाल किया जाता है इत्यादि. यदि हम आसान भाषा में कहें तो ये एक ऐसा महत्वपूर्ण दस्तावेज है जिसके इस्तमाल से भारत के आम नागरिक उचित मूल्य में दुकानों या राशन डिपो से सामान खरीद सकते हैं।

Ration Card Online

भारत में कोन इन Ration Cards को distribute करता है?

भारत में ration cards को State Government के द्वारा issue किया जाता है. इसलिए Ration Card से सम्बंधित सभी चीज़ें जैसे की नए ration card के लिए apply करना, खोये ration card की प्राप्ति, Name Change को राज्य सरकार ही संभालती है.

Ration Card के प्रकार

राष्ट्र खाद्य सुरक्षा नियम (National Food Security Act) NFSA, के अधीन भारत के सभी राज्य सरकार को पहले ऐसे परिवारों को खोजना होता हैं जो की इस नियम के अंतर्गत आते हैं. जिन्हें वो public distribution system के माध्यम से अनाजों को subsidised rates (normal rates से कम करना जो की किसी भी गरीब व्यक्ति के लिये देने योग्य हो) में इन चुनिन्दा परिवारों तक पहुँचाने के काम करते हैं इसके साथ उन्हें Ration cards को पहुँचाने के काम भी करते हैं.

NFSA के अंतर्गत मुख्य रूप से दो प्रकार के ration cards होते हैं :

Priority ration cards :

इन cards को उन परिवारों को प्रदान किया जाता है जो की राज्य सरकार के द्वारा तय किये गए eligibility criteria को fulfill करते हैं. इन परिवारों के प्रत्येक सदस्य को to 5 kilograms का अनाज मुहया किया जाता है.

  • Antyodaya (AAY) ration cards :
    इस cards को बहुत ही गरीब लोगों को प्रदान किया जाता है. यहाँ सभी AAY परिवारों को 35 kilograms का अनाज मुहया किया जाता है.
    जब NFSA नहीं बना था तब मुख्य रूप से तीन प्रकार के ration cards हुआ करते थे :
  • Above Poverty Line (APL) ration cards उन परिवारों को प्रदान किया जाता है जिनकी family income Planning Commission के द्वारा तय किया गया limit से ज्यादा हो. मतलब की वो poverty line (गरीब रेखा) के ऊपर हो. इन सभी families को 15 kilogram तक का अनाज मुहया किया जाता है सरकार के द्वारा. (वो भी availability के अनुसार).
  • Below Poverty Line (BPL) उन परिवारों को प्रदान किया जाता है जिनकी family income Planning Commission के द्वारा तय किया गया limit से कम हो. मतलब की वो poverty line (गरीब रेखा) के निचे हो. इन सभी families को 25-35 kilogram तक का अनाज मुहया किया जाता है सरकार के द्वारा.
  • Antyodaya (AAY) ration cards उन परिवारों को प्रदान किया जाता है जो गरीबों से भी ज्यादा गरीब हों.जिनकी कुछ भी खरीदने का सामर्थ्य नहीं होता है. इन सभी families को 35 kilogram तक का अनाज मुहया किया जाता है सरकार के द्वारा.

Online Ration Card apply कैसे करें

  • यदि आप Online अपना Ration Card apply करना चाहते हैं तब आपको निम्नलिखित steps को follow करना होगा : –
  • अपने राज्य के खाद्य और रसद विभाग के Offcial website को जाना पड़ेगा. 2.  फिर वहां सही भाषा का चुनाव करना होगा.
  • उसके उपरांत कुछ details जैसे की District Name, Area name, Town, Gram Panchayat के बारे में सही जानकारी प्रदान करनी होगी.
  • फिर आपको Card Type चुनना होगा. (APL/BPL/ Antyodaya).
  • इसके बाद जैसे जैसे आप आगे बढ़ेंगे आपको वो बहुत से information मांगेंगी जैसे की आपके परिवार के मुख्या का नाम, Aadhar Card number, Voter ID, Bank Account Number, Mobile Number इत्यादि. इसे आपको सही तरीके से भरना होगा.
  • ऐसे ही आगे आपको जो कुछ भी पूछेगा आपको उसे भरना पड़ेगा और अंतिम में आपको submit का button दबाना होगा और अपने लिए एक copy print करना होगा.
  • एक बार वो आपके सारे documents की जाँच कर लें तब आपको अपनी ration card घर पर ही मिल जाएगी.

Offline Ration Card apply कैसे करे

  • यदि आप Offline अपना Ration Card apply करना चाहते हैं तब आपको निम्नलिखित steps को follow करना होगा :
  • हर शहर में एक circle office होता है जहाँ की ration card का form मिलता है, अगर कोई व्यक्ति चाहे तब वहां जाकर उसे प्राप्त कर सकता है. इसके लिए आपको कुछ मूल्य का भुकतान करना होगा. इसके साथ गरीबी रेखा के निचे स्तिथ लोगों के लिए ये बिलकुल मुफ्त उपलब्ध है.
  • 2.यदि कोई व्यक्ति चाहे तो वो ये form official website से download करके भी प्राप्त कर सकता है.
  • ये बात जरुरी है की form submit करने से पहले आप ये ध्यान रखें की अपने घर की मुख्या की 3 passport size photo को attach करना होगा. लेकिन ध्यान दें की ये किसी gazatted officer के द्वारा attested होना बहुत जरुरी है.
  • अपने residential proof के तोर पर आप अपने rent aggrement को प्रदान कर सकते हैं यदि आपके पास खुदका घर न हो.
  • यदि आप residential proof देने में समर्थ नहीं हैं तब आप FSO के द्वारा आपके किन्ही दो पड़ोसियों का statement भी record कर उसे proof के तोर पर पेश कर सकते हैं.
  • इसके साथ बाकि सभी formalities को पूर्ण कर आप form को office में जमा कर सकते हैं.
  • Form Submission के 1 महीने बाद आपका राशन कार्ड बनकर तैयार हो जाता है, जिसे आप office जाकर प्राप्त कर सकते हैं.